Tuesday, 30 June 2020

1 जुलाई से उत्तराखंड में चार धाम यात्रा शुरू कर दिए जाएंगे जानिए पूरी जानकारी

1 जुलाई से उत्तराखंड में चार धाम यात्रा शुरू कर दिए जाएंगे जानिए पूरी जानकारी।  

जैसा कि आप लोगों को पता ही होगा उत्तराखंड में पर्यटन एक जाना माना व्यवसाय लेकिन कोरोनावायरस के चलते सरकार की हिदायत के अनुसार लोगों को चार धाम यात्रा यानी कि बद्रीनाथ केदारनाथ गंगोत्री यमुनोत्री धाम के दर्शन पर पूर्णता लोगों के आवाजाही पर रोक लगा दिया गया।  क्योंकि इससे संक्रमण बढ़ने का खतरा था उसके बाद सरकार ने फैसला किया कि जिस जिले में चारों धाम स्थित हैं वहां के लोग उन जिलों के लोग चार धाम के मंदिरों का दर्शन कर सकते हैं।



अब सरकार ने 1 जुलाई से निर्णय लिया है कि चार धाम चार धाम यात्रा पूरे उत्तराखंड वासियों के लिए खोल दिया जाए जिससे लोग चारों धाम के दर्शन कर सकते हैं।  उत्तराखंड चार धाम देवस्थान बोर्ड के सीईओ रविनाथ रमन ने कहा है की  अभी राज्य के भीतर भीतर के लोगों के लिए ही चार धाम दर्शन की अनुमति दी जाएगी। लेकिन इसके लिए लोगों को संबंधित जिले की वेबसाइट पर अनुमति जारी जानी पड़ेगी उसके पश्चात ही वह चार धाम यात्रा दर्शन हेतु जा सकते हैं ।

कंटेनमेंट जोन के लोगों को अभी भी यात्रा की नहीं मिलेगी अनुमति।  

सरकार द्वारा यह तय किया गया है कि लोगों को यात्रा से जाने से पहले अपनी मूल निवास प्रमाण पत्र दिखाना होगा तथा कंटेनमेंट जोन वाले लोगों को यात्रा की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसके अलावा जो लोग क्वारंटाइन में रखे गए हैं उन्हें भी यात्रा में जाने की अनुमति नहीं मिलेगी। साथ ही साथ बाहर से आए हुए लोगों को जो कि अन्य राज्यों से आए हुए हैं।  उन्हें भी यात्रा करने की अनुमति नहीं  दी जाएगी।

सीमित संख्या में ही लोग कर सकते हैं चार धाम की यात्रा। 

सरकार की गाइडलाइंस के अनुसार केवल सीमित लोगों को ही चार धाम यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी यानी कि 1 दिन में कुछ सीमित लोग ही यात्रा कर सकते बद्रीनाथ में 1200, केदारनाथ में 800, गंगोत्री में 600 और यमुनोत्री में 400 लोगों को ही प्रवेश दिया जायेगा। 
Share:

0 comments:

Post a comment

Thanks for your feedback, If you have any query so pls attach your email address with your comment, then we will respond to your comments.